स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

श्रावण मास में जानिये मौसम का हाल, पहले दिन झमाझम हुई बारिश

Dhirendra yadav

Publish: Jul 18, 2019 17:49 PM | Updated: Jul 18, 2019 17:49 PM

Agra

मौसम विभाग के अनुसार अगले 48 घंटे अभी तेज बारिश होने की संभावना है।

आगरा। श्रावण मास की शुरुआत के साथ ही मौसम ने करवट बदल ली है। वैसे बारिश का क्रम पहले शुरू हो चुका है, लेकिन सावन के पहले दिन रात को हुई झमाझम बारिश ने शहर को तरवतर कर दिया। इसके बाद दूसरे दिन की शुरुआत घने बादलों के साथ हुई, लेकिन दिन बढ़ने के साथ ही सूर्य देव की किरणों ने बादलों को छाटना शुरू कर दिया। आइये जानते हैं, कि मौसम विभाग के अनुसार अगले दिनों कैसा रहेगा मौसम का हाल।

ये भी पढ़ें - पति को मुठभेड़ में मारने की धमकी देकर यूपी पुलिस के दरोगा करते रहे महिला के साथ बलात्कार, गर्भवती होने पर...

ये है मौसम विभाग की ओर से जानकारी
मौसम विभाग की मानें, तो मानूसन पूरी तरह से आ चुका है। पहले दिन रिकार्ड तोड़ 30 एमएम बारिश हुई। मौसम विभाग के अनुसार अगले 48 घंटे अभी तेज बारिश होने की संभावना है। इसके बाद एक दो दिन बारिश नहीं होगी, वहीं 22 जुलाई के बाद फिर से तेज बारिश होने का अनुमान है।

ये भी पढ़ें - डॉक्टर की कमाई से छह माह में लखपति बन गई नौकरानी, सामने आई हैरान कर देने वाली सच्चाई


उमस से मिली राहत
अचानक हुई बारिश से लोगों को उमस और गर्मी से राहत मिली है। 17 जुलाई की शाम 7:25 बजे एकदम से पूरे शहर में जोरदार बारिश हुई। तेज बिजली कड़कने के साथ मूसलाधार बारिश ने आधे घंटे में ही पूरे शहर को तलैया बना दिया। जिन इलाकों में अमूमन पानी नहीं भरता है, वे भी जलमग्‍न नजर आए। रात को मौसम खुशनुमा दिखाई दिया। सड़कों पर नदियां बहने लगीं। निचले इलाकों में घरों के अंदर पानी भर गया। देर रात तक सड़कों पर जाम में वाहन फंसे हुए थे।

ये भी पढ़ें - रेड लाइट एरिया में जब पहुंचा युवक, तो वहां कोठे पर मिली उसे अपनी प्रेमिका, जानिये फिर क्या हुआ...


किसानों के लिए राहत
वहीं ये मानूसन किसानों के लिए बड़ी राहत है। अभी धान की फसल की बुआई का समय चल रहा है। गांव बरारा के किसान रोहतान ने बताया कि धान की फसल की बुआई के लिए खेत पानी से लबालब भरा होना चाहिए। विगत दिवस हुई बारिश से खेत जलमग्न हो गया, ऐसे में अब फसल की बुआई आसानी से हो जाएगी। वहीं महुअर के किसान नौहवत सिंह कुशवाह ने बताया कि चरी के लिए भी ये बारिश वरदान है।