स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गांजा तस्करों ने खोला बड़ा राज, बताया किस तरह तस्करी करने के बाद गांजा बेचने के लिए युवाओं को कर रहे थे टारगेट

Dhirendra yadav

Publish: Sep 19, 2019 16:39 PM | Updated: Sep 19, 2019 16:39 PM

Agra

-थाना सदर पुलिस ने दो गांजा तस्कर किए गिरफ्तार

आगरा। ताजमहल का शहर आगरा नशा खोरी के गोरखधंधे का केन्द्र बनता जा रहा है। यहां आये-दिन अवैध शराब, चरस, अफीम व गांजा की तस्करी करने वाले पुलिस की पकड़ में आ रहे हैं। थाना सदर पुलिस ने वाहन चैकिंग के दौरान दो गांजा तस्करों को गिरफ्तार किया है। जिनमें अरुण वशिष्ठ थाना सदर के बागराजपुर का व शाहरुख खान थाना ताजगंज के ताजनगरी फेस-2 नगला मेवाती का रहने वाला है। इनके कब्जे से पुलिस ने करीब पांच किलो अवैध गांजा बरामद किया है। थाना सदर पुलिस ने गिरफ्तार हुए तस्करों की निशान देही पर फरार चल रहे गांजा तस्कर नीरज वशिष्ठ निवासी बागराजपुर थाना सदर की तलाश शुरू कर दी है।

तस्करी का केन्द्र बना आगरा
पर्यटन का शहर आगरा नशाखोरी की जद में जा रहा है। यहां देशी विदेशी सभी जगह के लोग पर्यटन के लिए आते हैं। इन लोगों के अपने अलग-अलग शौक होते हैं, जिनमें नशा भी शामिल है। यही हाल आगरा में युवाओं का है जो घर से कैरियर की तैयारी या नौकरी के लिए आगरा आते हैं, लेकिन इनमें ज्यादातर युवा नशे के आदि हो चुके हैं। यही वजह है कि मादक पदार्थों की तस्करी करने वालों के निशाने पर सॉफ्ट टारगेट आगरा बन गया है।

आपराधिक इतिहास
गांजा की तस्करी में धरे के गए बदमाश पेशेवर हैं। जिनमें बागराजपुर थाना सदर के अरुण उर्फ छोटू पर एनडीपीएस एक्ट के तीन व मारपीट और बलवा का एक मुकदमा थाना सदर में दर्ज है। थाना ताजगंज का रहने वाला शाहरुख खान अवैध असलाह रखने व मादक पदार्थों की तस्करी के साथ ही जानलेवा हमले में जेल जा चुका है। यह तस्कर आगरा के पॉश इलाके में मादक पदार्थों की तस्करी कर मोटा मुनाफा कमाने के चलते पेशेवर बन चुके हैं।