स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रंक को राजा बना देते हैं हनुमान जी के ये चार उपाय

suchita mishra

Publish: Aug 20, 2019 07:00 AM | Updated: Aug 19, 2019 18:23 PM

Agra

कलियुग में हनुमान जी की आराधना को सर्वश्रेष्ठ माना गया है।

नुमान जी को जीवित देव माना जाता है, इसलिए कलियुग में उनकी आराधना को सर्वश्रेष्ठ माना गया है। ज्योतिषाचार्य डॉ. अरविंद मिश्र के मुताबिक यदि हनुमान बाबा को कोई भक्त प्रसन्न कर ले तो वे उसके जीवन के समस्त संकटों को समाप्त कर देते हैं। ऐसे असंभव चीजें भी संभव हो जाती हैं, भाग्य खुल जाता है और रंक भी राजा बन जाता है। वहीं हनुमान जी के पूजन से नवग्रह की दशाओं का भी असर नहीं होता। मंगलवार को हनुमान बाबा का विशेष दिन माना जाता है। आइए ज्योतिषाचार्य डॉ. अरविंद मिश्र से जानते हैं हनुमान बाबा को प्रसन्न करने के उपाय।

1. मंगलवार के दिन किसी भी हनुमान मंदिर में जाएं। वहां हनुमान जी की मूर्ति से सिंदूर लेकर सीता मां के चरणों में चढ़ा दें। साथ ही मन ही मन अपनी अपनी इच्छा की कामना करें। मान्यता है कि हनुमान जी राम जी के अलावा सीता माता के भी प्रिय हैं, सीता माता प्रसन्न होकर उनके भक्तों की भी मनोकामना पूरी करती हैं।

2. यदि लगातार कई दिनों से आपको किसी भी प्रकार का डर सता रहा है या आप किसी संकट से उबरना चाह रहे हैं और आपको उस संकट से मुक्ति नहीं मिल रही है तो लगातार 100 दिन तक हनुमान चालीसा का पाठ करें।

3. रोजाना विधि पूर्वक पीपल के पेड़ के नीचे बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ करें।मंगलवार और शनिवार के दिन सुंदरकांड का पाठ करें और इसके बाद हनुमान चालीसा का पाठ करें। ध्यान रहे कि जब भी आप पाठ कर रहे हों तो हनुमान जी की मूर्ति के सामने एक ज्योत जरूर जलाएं।

4. यदि कुंडली में ग्रहों का दोष है तो काले चने और गुड़ का प्रसाद बनाकर मंगलवार और शनिवार के दिन हनुमान जी के मंदिर में प्रसाद बांटे। इसके अलावा 21 दिन तक हनुमान के बजरंग बाण का पाठ करें।