स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

धनतेरस 2019: शुभ मुहूर्त में खरीददारी करना होगा फलदायी, जानिए वस्तु के हिसाब से खरीददारी का अतिशुभ समय

suchita mishra

Publish: Oct 22, 2019 10:40 AM | Updated: Oct 22, 2019 10:40 AM

Agra

जानें स्थिर लग्न, चर लग्न और द्विस्वभाव लग्न का महत्व व अन्य जानकारी।

आगरा। दीपों का पंचदिवसीय त्योहार दीपावली 25 अक्टूबर से शुरू हो रहा है और 29 अक्टूबर को भैयादूज तक चलेगा। 25 तारीख को धनतेरस है। इस दिन को खरीददारी के लिहाज से सर्वोत्तम माना गया है। हालांकि तेरस 25 अक्टूबर को शाम 7:06 मिनट से लगेगी और 26 अक्टूबर को 3:44 मिनट तक रहेगी। इसके बाद चौदस लग जाएगी। चूंकि तेरस शाम से लग रही है, इस लिहाज से धनतेरस के दिन खरीददारी शाम 7:06 बजे से करना ही शुभ व फलदायी होगा। ज्योतिषाचार्य डॉ. अरविंद मिश्र से जानें किस तरह की वस्तु के लिए कौन सा समय अति शुभ होगा।

यह भी पढ़ें: जानिए Bhai Dooj तिथि व शुभ समय से लेकर त्योहार की पूरी जानकारी!

1. स्थिर लग्न
यदि मकान, जमीन, सोना—चांदी आदि कोई ऐसी वस्तु खरीदना चाहते हैं जो हमेशा आपके पास रहे, तो इसे स्थिर लग्न में खरीदें क्योंकि ये चीजें समृद्धि की द्योतक हैं। इनकी स्थिरता जरूरी है। स्थिर लग्न शाम 7:06 बजे से 8:43 बजे तक रहेगा। इस दौरान आप सोना—चांदी, हीरा आदि बहुमूल्य वस्तु खरीद सकते हैं। यदि जमीन या मकान खरीदना हो तो इस समय पर एडवांस रुपए देकर सौदा पक्का कर सकते हैं।

ध्यान रहे
यदि किसी कारणवश 25 अक्टूबर को स्थिर लग्न में जमीन या मकान का सौदा न हो पाए तो आप इस काम को 26 अक्टूबर को सुबह 08:01 बजे से 09:00 बजे तक और दोपहर 02:08 से 03:37 बजे के बीच एडवांस मनी देकर कर सकते हैं। चूंकि तेरस तिथि 26 अक्टूबर को 3:44 मिनट तक रहेगी, इस कारण आपका सौदा धनतेरस में ही माना जाएगा।

2. द्विस्वभाव व चर लग्न
यदि कोई चलायमान वस्तु जैसे वाहन, वॉशिंग मशीन, फ्रिज या कोई अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान जो चलता भी है और घर में रखा भी रहता है, खरीदना चाहते हैं तो इन्हें चर लग्न या द्विस्वभाव लग्न में खरीदें। अगर वाहन टैक्सी के लिहाज से खरीदना है तो चर लग्न में खरीदना अति शुभ है। 24 अक्टूबर को द्विस्वभाव लग्न सुबह 08:43 बजे से 10:57 बजे तक रहेगा। जबकि चर लग्न रात को 10:57 बजे से रात 01:21 बजे तक रहेगा।

इन वस्तुओं की खरीददारी से करें परहेज
धनतेरस के दिन चमड़ा, लोहा, स्टील, तांबा आदि खरीदने से बचें, साथ ही किसी को उपहार में भी न दें। इससे घर में नकारात्मकता आती है।