स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इथोपियन एयरलाइंस हादसा: संकट में अफ्रीका की सबसे बड़ी हवाई सेवा, विस्तार योजनाओं को लगा झटका

Siddharth Priyadarshi

Publish: Mar 11, 2019 08:16 AM | Updated: Mar 11, 2019 09:09 AM

Africa

- इथोपियन एयरलाइंस प्लेन क्रैश में 157 लोगों की मौत
- टेक ऑफ करते ही क्रैश हुआ विमान
- दुर्घटना की जांच जारी
- इथोपियन एयरलाइंस को गहरा झटका
- अफ्रीका की सबसे सुरक्षित एयरलाइंस
- विस्तार योजनाओं पर उठने लगे सवाल

अदीस अबाबा। इथोपियन एयरलाइंस प्लेन क्रैश हादसे ने पूरी दुनिया को दहला दिया है। इस हादसे से अफ्रीका की इस सबसे बड़ी एयरलाइंस को गहरा झटका लगा है। बीते कुछ सालों के महत्वाकांक्षी विस्तार से एयरलाइंस को अपने क्षेत्रीय प्रतिद्वंद्वियों को पछाड़ते हुए सबसे बड़ा वाहक बनने में मदद मिली। आपको बता दें कि रविवार की सुबह इथोपियन एयरलाइंस का विमान क्रैश हो गया। इस हादसे में 157 लोगों की मौत हो गई। इथोपिया की राजधानी अदीस अबाबा से उड़ान भरने के कुछ ही देर बाद ही बोइंग 737-8 एमएएक्स विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। भारत के पीएम नरेंद्र मोदी ने हादसे में मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

साख पर लगा बट्टा

इथोपियन एयरलाइंस ने कुछ समय पहले से अपने बेड़े में नए विमानों और नए गंतव्यों को जोड़ा है। एक वर्ष में 10 मिलियन से अधिक यात्रियों को ले आने इस कैरियर को ताजा दुर्घटना से गहरा झटका लगा है। 1945 में अपनी स्थापना के बाद से अब तक अमरीकी वाहक ट्रांस वर्ल्ड एयरलाइंस (टीडब्ल्यूए) के साथ एक संयुक्त उद्यम के रूप में इथोपियन एयरलाइंस धीरे-धीरे अफ्रीका की प्रमुख वाहक बन गई है। अंतर्राष्ट्रीय एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (IATA) के अनुसार राज्य के स्वामित्व वाली इस विमान सेवा ने केन्या एयरवेज और दक्षिण अफ्रीकी एयरवेज जैसे क्षेत्रीय प्रतिद्वंद्वियों को तगड़ी चुनौती देते हुए अपनी जगह बनाई। एयरलाइंस 2010 में अपने बेड़े को दोगुना करने के लिए विस्तार की रणनीति 2010 में लॉन्च की। कमपनी का उद्देश्य 2025 तक अपने बेड़े में कम से कम 150 विमान शामिल करने की है। पिछले साल ही इसे अफ्रीका की सबसे अधिक सुरक्षित एयरलाइन्स का दर्जा दिया गया था।

हादसे की जांच जारी

इथोपियन एयरलाइंस का ट्रैक रिकॉर्ड बहुत बेहतर है। इसे महाद्वीप की सबसे सुरक्षित विमान सेवाओं में देखा जाता है। हालांकि पिछले कुछ दशकों में इसे कुछ घटनाओं का सामना करना पड़ा है। बोइंग 737 मैक्स 8 टेक-ऑफ करने के तुरंत बाद रविवार को दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें सभी 157 लोग मारे गए। उससे पहले इथोपियन एयरलाइंस यात्री विमान से जुड़ा आखिरी बड़ा हादसा बोइंग 737-800 का था जो 2010 में हुआ था। इस हादसे में लेबनान से उड़ान भरने के बाद विमान समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें 83 यात्रियों और चालक दल के सात सदस्यों की मौत हो गई थी। रविवार की दुर्घटना के बाद इथियोपिया के प्रधान मंत्री अबी अहमद कहा है कि हादसे की विस्तार से जांच की जाएगी। रविवार को दुर्घटनाग्रस्त हुआ बोइंग 737 मैक्स विमान एक नवीनतम विमान था। इसे कुछ महीने पहले ही बेड़े में शामिल किया गया था।इस विमान हादसे के बाद इंडोनेशिया में पांच महीने पहले लाइन एयर हादसे की यादें ताजा हो गईं। आपको बता दें कि पिछले अक्टूबर में जकार्ता से टेक-ऑफ के 13 मिनट बाद लाइन एयर का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें सभी 189 लोग मारे गए थे ।